KALA SUIT LYRICS – Vanshika Hapur

KALA SUIT LYRICS - Vanshika Hapur

Haryanvi song KALA SUIT LYRICS sung by Vivek Sharma. Featuring Vanshika Hapur. Music is given by Vivek Sharma and Lyrics written by Pawan.

SingerVivek Sharma
MusicVivek Sharma
Song WriterPawan

KALA SUIT Lyrics

तेरे रूप पे जचे से यो काला सूट री री तेरे रूप पे
तेरे रूप पे जचे से यो काला सूट री री तेरे रूप पे

रे चाँद भी यो फ़िदा देख होण लाग रा री तेरे रूप पे
रे चाँद भी यो फ़िदा देख होण लाग रा री तेरे रूप पे

तेरे रूप पे जचे से यो काला सूट री री तेरे रूप पे
तेरे रूप पे जचे से यो काला सूट री री तेरे रूप पे

हो घूँघट तू करे घनी मटक के चाले से
रे देख देख तन्ने रे यो मेरा दिल हाले से
हो घूँघट तू करे घनी मटक के चाले से
रे देख देख तन्ने रे यो मेरा दिल हाले से

बन्दे भी हो जावे कती म्यूट री री तेरे रूप पे
हो बन्दे भी हो जावे कती म्यूट री री तेरे रूप पे

तेरे रूप पे जचे से यो काला सूट री री तेरे रूप पे
हो तेरे रूप पे जचे से यो काला सूट री री तेरे रूप पे

जब तिरछी तू देखे तो कमाल कर देवे से
हो छोरा भीतर खड़ा तू बवाल कर देवे से
तिरछी तू देखे तो कमाल कर देवे से
रे हो छोरा भीतर खड़ा तू बवाल कर देवे से

हो देख देख तन्ने छोरे मारे यो सलूट तेरे रूप पे
हो देख देख तन्ने छोरे मारे यो सलूट तेरे रूप पे

तेरे रूप पे जचे से यो काला सूट री री तेरे रूप पे
हो तेरे रूप पे जचे से यो काला सूट री री तेरे रूप पे

पवन भी गीत तेरे उपर बनारा से
रे काला तिल ठोड़ी का यो घना ही सता रा से
पवन भी गीत तेरे उपर बनारा से
रे काला तिल ठोड़ी का यो घना ही सता रा से

हो दीखन में लागे मथाकी सी फ्रूट तेरे रूप पे
दीखन में लागे मथाकी सी फ्रूट तेरे रूप पे

तेरे रूप पे जचे से यो काला सूट री री तेरे रूप पे
हो तेरे रूप पे जचे से यो काला सूट री री तेरे रूप पे